कोई विदेशी राष्ट्राध्यक्ष भारत आएगा तो यहां 22 किलोमीटर का रोडशो क्यों करेगा?

कोई विदेशी राष्ट्राध्यक्ष भारत आएगा तो यहां 22 किलोमीटर का रोडशो क्यों करेगा? क्या वह यहां चुनाव लड़ रहा है? क्या किसी विदेशी नेता को भारत में रोडशो का अधिकार है? क्या वह भारत का सर्वोच्च प्रतिनिधि है? क्या वह भारत का मालिक है? क्या भारत उसकी कॉलोनी है? ट्रंप किस हैसियत से गुजरात में […]

आंदोलनों का इतिहास और शाहीनबाग!

आंदोलनों का इतिहास और शाहीनबाग :- शाहीन बाग का आंदोलन स्वतंत्र भारत ही नहीं पूरे भारतीय इतिहास का सबसे बड़ा “अहिंसक आंदोलन” है , फिर भी उच्चतम न्यायालय , पूरी सरकार और पूरी भाँड मीडिया इसके पीछे पड़ी है। भारत के स्वतंत्रता आंदोलन में भी हिंसा हुई , काकोरी , चौरीचौरा जैसें हिंसक कांड हुए […]

हिन्दू बहनों के लिए रोशन बाग से मुस्लिम बहनों का एक पत्र

Roshan Bagh CAA Protets

प्यारी बहन, मैं वही आफरीन हूँ जो कल क्लास में तुम्हारे बगल में बैठी थी। मैं वही ज़ैनब हूँ जिसके साथ कल ही तुमने पानी-पूरी के मजे लिए थे। मैं वही फ़ातिमा हूँ जिसे हर साल सब से पहले तुम ही जन्मदिन की बधाई देती रही हो। अब तुम मुझे जरूर पहचान गई होगी। हाँ […]

शाहीन बागों ने भारतीय स्त्रीत्व की नई क्रांतिकारी अवधारणा रची है.

दिल्ली की जनता को डराने के लिए, प्रवेश वर्मा ने कहा था कि “शाहीन बाग के लोग घरों में घुस कर दिल्ली की बहन बेटियों के साथ बलात्कार करने वाले हैं.” 06 जनवरी को गार्गी कॉलेज में सामूहिक यौन हिंसा करने वाले लोगों के बारे में BBC समेत अनेक एजेंसियों ने पीड़िताओं और चौकीदारों के […]

शाहीन बाग में चल रहे लंगर ने भारत को जिता दिया!

शाहीन बाग में चल रहे लंगर ने भारत को जिता दिया. शाहीन बाग के नाम ध्रुवीकरण करने वाली सियासत हार गई. इस लंगर के लिए पैसे की कमी हुई तो डीएस बिंद्रा ने अपना फ्लैट बेच दिया. भारत की यही जनता है जिससे भारत की उम्मीद कायम रहती है. जब भी भारत को हराने की […]

राष्ट्रवाद को मुंशी प्रेमचंद ने ‘कोढ़’ क्यों कहा था?

राष्ट्रवाद को मुंशी प्रेमचंद ने ‘कोढ़’ क्यों कहा था? मुंशी प्रेमचंद ने 1933 में लिखा था, ‘राष्ट्रीयता वर्तमान युग का कोढ़ है, उसी तरह जैसे मध्यकालीन युग का कोढ़ साम्प्रदायिकता थी। नतीजा दोनों का एक है। साम्प्रदायिकता अपने घेरे के अन्दर पूर्ण शान्ति और सुख का राज्य स्थापित कर देना चाहती थी, मगर उस घेरे […]

हिंदू आंगन में मुस्लिम बारात!

हिंदू आंगन में मुस्लिम बारात शब्बो खातून की शादी में बारात मुस्लिम परिवार की तरफ से आई थी, लेकिन बारात की अगवानी हिंदू परिवार कर रहा था। इसलिए उन दिनों शब्बो की शादी के चर्चे सबकी जबान पर थे। यह कहानी करीब 20 साल पहले शुरू हुई थी जब शब्बो सिर्फ 4 साल की थी। […]

इस वक़्त भारत में आरएसएस और बीजेपी की सत्ता नहीं है, झूठ की सत्ता है।

इस वक़्त भारत में आरएसएस और बीजेपी की सत्ता नहीं है, झूठ की सत्ता है। भारतीय राष्ट्र का मुकाबला एक खतरनाक किस्म के झूठ से है। रोज सुबह के अखबार झूठ से भरे हैं और दिन भर चैनल झूठ परोसते हैं। पूरे भारत की सत्ता पर झूठ का कब्जा है। जनता से कहा जा रहा […]